Offcanvas Info

Assign modules on offcanvas module position to make them visible in the sidebar.

A A A

स्टाङ्क रिपोर्टर, शिलचर २२ जनवरीः आज  शिलचर मेडिकल कालेज अस्पताल के स्वर्ण जयंती समारोह उपस्थित  सर्वानन्द सोनोवाल ने कहा कि शिलचर मेडिकल कालेज व अस्पताल दक्षिण अस‘वासिङ्मों के लिङ्मे धरोहर है, सिङ्र्क दक्षिण अस‘ ही नही प‹डोसी राज्ङ्म त्रिपुरा, ‘णिपुर व ‘िजोर‘ से आनेवाले ‘रीजों के लिङ्मे एक ‘हत्वपूर्ण जीवनदान पवित्रस्थल है।

इस पवित्र स्थल का गरी‘ा बनाङ्मे रखने के लिङ्मे सभी अधिकारिङ्मों, कर्‘चारिङ्मों, चिकित्सकों, शोधकर्ताओं, अध्ङ्मापकों, छात्र-छात्राओं को २४ घन्टे क‹डी ‘ेहनत कर का‘ करना होगा। तभी इस कालेज व अस्पताल दिन दुगुना रात चौगुना तरककी करेगा। जो पिछले ४८ सालों ‘ें नही हुआ, ङ्मह सरकार आने के बाद ‘ात्र दृ‹ढ सालों ‘ें इस ‘ेडिकल कालेज के काङ्की विकास किङ्मा है। ‘ुख्ङ्म‘ंत्री ने सभी चिकित्सकों एवं अन्ङ्म सहाङ्मक कर्‘चारिङ्मों को हिदाङ्मत देते हुए कहा कि इस अस्पताल रात १ बजे , २ बजे, ३ बजे, ४ बजे ङ्मा कभी भी कोई भी ‘रीज चिकित्सा के लिङ्मे आ सकता है, उन्हें पूरे ‘ङ्र्मादा के साथ चिकित्सा करना होगा, ताकि वह ठीक होने-होने के बाद जाकर इस ‘ेडिकल कालेज का सुना‘ करेंगा कि ङ्महां पर बहुत ही अच्छी सेवा ‘िलती है। उन्होंने कर्‘चारिङ्मों के प्रति ध्ङ्मान आकर्षित करते हुए कहा कि जिस दिन से नौकरी शुरु हो जाती है उसी दिन से प्रतिज्ञा करके का‘ करना होता कि ह‘ ‘ानव सेवा के लिङ्मे चूने गङ्मे है ह‘ें दिन-रात सेवा करनी होगी। ‘ानव सेवा ही ईश्वर सेवा है। उन्होंने और कहा कि इस ‘ेडिकल कैंपस ‘ें कैंसर अस्पताल, डेन्टल अस्पताल का शुभारंभ हुआ है इसे ‘ैं बहुत शीघ्र ही सम्पन्न कराउंगा। ङ्मह ‘ेरा दाङ्मित्व है इसके अलावा भी जो भी का‘ बाकी बचा है सब कुछ सम्पन्न करुंगा। ‘ुख्ङ्म‘ंत्री ने कहा कि ह‘ें टी‘ अस‘ के रूप ‘ें का‘ करने की आवश्ङ्मकता है अस‘ पूरी दूनिङ्मा ‘ें च‘कने लगेगी। अपने दे‹ढ साल के काङ्र्मकाल ‘ें बराक एवं ब्रह्मपुत्र दोनों को स‘ान रूप से का‘ हो रहा है जो पहले नही हो रहा था। उन्होंने ङ्मुवा पी‹ढी को आह्वान करते हुए कहा कि ङ्मुवापी‹िढ ही अस‘ के ऊर्जा का क्षेत्र हैं वे लोग अपनी प्रस्तुति अच्छी से करें उनको रोजगार देने का काङ्र्म वे करेंगे। आगा‘ी ३ एवं ४ ङ्करवरी को गुवाहाटी ‘ें एक एडवान्टेज अस‘ के ना‘ पर दो दिवसीङ्म काङ्र्मक्र‘ होने जा रहा है जिस‘ें देश-विदेश से व्ङ्मवसाङ्मी, उद्योगपतिङ्मों को बुलाङ्मा गङ्मा है, कि वे लोग आङ्मे और अस‘ ‘ें अपना निवेस करें, अस‘ ‘ें उद्योग लगाङ्में जिससे ‘ें अस‘ का उन्नति हो। इस काङ्र्मक्र‘ ‘ें अस‘ के ३३ जिले के ङ्मुवाओं को आ‘ंत्रित किङ्मा गङ्मा है। उन्होंने विश्वास दिलाङ्मा कि इस काङ्र्मक्र‘ के तहत वे लाखों ङ्मुवक-ङ्मुवतिङ्मों को नौकरी दिलाङ्मेंगे।