Offcanvas Info

Assign modules on offcanvas module position to make them visible in the sidebar.

A A A

स्टाफ रिपोर्टर, शिलचर ११ मई : काछा‹ड जिले के सभी एलपी एवं एमई स्कूल के शिक्षकोें को समयानुसार विद्यालय जाना होगा। कोई लापरवाही बर्दाश्त नहीं होगी।

बच्चों के भविष्य के साथ कोई खिलवा‹ड नहीं चलेगा। सुबह पौने ९ बजे से १५ मिनट के प्रार्थना करने के पश्चात ९ बजे से क्लास क्लास आरम्भ करना ही होगा। दोपहर १ बजकर ४५ बजे एलपी स्कूल एवं एमई स्कूल दोपहर २ बजे छुट्टी करना होगा। सुबह ९ बजे से २ बजे के बीच कोई शिक्षक विद्यालय में नहीं पाया गया तो, उनके विरुद्ध कारवाई होगी, उन्हें शोकाज नोटिस भेजा जायेगा। निलंबन भी किया जा सकता है। 

शिक्षकों को कोई असुविधा होने से वे लोग अपने बीईईओ से सम्पर्क कर बताए। उनकी समस्या का निदान करना मेरा कर्तव्य है। ११ मई को प्रेरणा के प्रतिनिधि से हुइ बातचीत में उपरोक्त बातें काछा‹ड जिले के डीईइओं डॉ. एच. के हजारिका (एइएस) ने कही। उन्होेंने कहा जिले के किसी भी स्कूल में मिडडे मील में लापरवाही होने से कारवाई होगी। सर्वशिक्षा अभियान, असम के द्वारा दी गयी तालिका के तहत बच्चों को मध्यान्ह भोजन की व्यवस्था करना प्रधान शिक्षक का दायित्व है। शिकायत का मौका नहीं देना होगा।

प्रेरणा भारती से हुई बातचीत में डॉ. हजारिका ने और कहा जिले के अधिकांश शिक्षक स्कूल जाना ही नहीं चाहते। फर्जी शिक्षक रखकर काम चलाया जाता था। ३ दिसम्बर २०१५ को मैंने ज्वाइन करने के बाद ही मैंने यह नियम बदल दिया। जब मैं आया था। तब १२९ प्राथमिक स्कूलो में मिडडे मिल बंद था, कुछ कोर्ट की वजह से भी बंद था। मैने सभी मिडडे मिल को चालू करवाया। ८० स्कूलों में विल्डिंग एवं रसोई घर का काम बंद प‹डा था, सभी में काम शुरु करवाया। भ्रष्टाचार में पक‹डे गये शिक्षकों से २०-२२ लाख रुपये की रिकवरी की गयी है। जो शिक्षक अब इस दुनिया में नहीं है, मगर भ्रष्टाचार में लिप्त थे, उनकी पत्नी को मिल रहे पेंशन से वह रुपया रिकवर किया जा रहा है। ऐसे ३-४ शिक्षक मिले जिनके पेन्शन से पैसा काटा जा रहा है। उन्र्होेंींने कहा कि काछा‹ड प्राथमिक शिक्षा विभाग में जो भी जंजाल है, उसे मैं दूर करुँगा। डॉ. हजारिका ने कहा कि आज सालछपरा शिखाखण्ड के अन्तर्गत आलमबाग विमला ट्राइबल स्कूल के अवकाशप्राप्त प्रधान शिक्षक कौशिक भटट्टाचार्य को भ्रष्टाचार में लिप्त पाया है। उन पर १ लाख ८५ जार रुपया घोटाला करने का आरोप है, उनका पैसा पेंशन से कटेगा। डॉ. हजारिका ने कहा कि मिडडिेल के लिए दो दो अटेन्डेन्ट रजिस्टर के रिवाज को खत्म करने के लिए सभी बीइइओ को क‹डा निर्देश दिया गया है। मैं खुद भी स्कूलों का दौरा करता हूँ। मिडडे मिल में सोमवार को चावल, दाल, शाकसब्जी, मंगलवार को खिच‹डी, शाकसब्जी, बुधवार को चावल, अंडा, शाकसब्जी, बृहस्पतिवार को चावल दाल, सब्जी, शुक्रवार को चावल दाल शाकसब्जी, तथा शनिवार को खिच‹डी या पोलाव अथवा शाकसब्जी स्वादिष्ट बनाकर देना होगा। इसमें साफ सफाई का पूरा ध्यान रखना होगा।

उन्होंने कहा कि जिले में कुल २४४१ स्कूल हैं, आंधी तूफान से कुल २१५ विद्यालयों को नुकसान पहुँचा है। इन स्कूलो में मरम्मत का काम चल रहा है। जिले में कुपल १७६ सीआरसीसी का पद है वर्तमान में, उनमें १४८ सीआरसीसी कार्यरत हैं, बाकी खाली पदों पर शीघ्र ही नियुक्ति की जाएगी।