Offcanvas Info

Assign modules on offcanvas module position to make them visible in the sidebar.

A A A

गुवाहाटी (समाचार एजेंसी)ः द फेडरेशन आँफ इंडस्ट्री एंड काँमर्स आँफ नाँर्थ ईस्टर्न रिजन (फिनर) के एक प्रतिनिधिमंडल ने गुरूवार की शाम नयी दिल्ली में वित्त मंत्री अरूण जेटली से मिला।

प्रतिनिधिमंडल ने जेटली के साथ पूर्वोत्तर में विकास और निवेश की संभावनाओं पर विचार किया। प्रतिनिधिमंडल में अध्यक्ष पवित्र बु‹ढागोहार्इं, उपाध्यक्ष आरएस जोशी व समिति के सदस्य अमित कुमार जैन शामिल थे। मौके पर प्रतिनिधिमंडल ने वित्तमंत्री को पूर्वोत्तर क्षेत्र की औद्योगिक नीति के संदर्भ में एक स्मार पत्र सौंपा। पूर्वोत्तर की नयी औद्योगिक नीति के मद्देनजर आवकारी कर के सौ प्रतिशत वापसी की मांग की गयी। स्मार पत्र में कहा गया है कि आयकर से छूट देकर अपेक्षित सुधार लाया जा सकता है। गौरतलब है कि इस महीने के अंत तक पूर्वोत्तर के लिए नयी औद्योगिक नीति घोषित होने की संभावना है। निवेशक ब‹डी ही सतर्कता से इसके घोषित  होने की प्रतिक्षा कर रहे हैं। गौरतलब है कि नीप २००७ की अवधि ३१ मार्च २०१७ को समाप्त हो चुकी है। मौके पर फिनर के प्रतिनिधिमंडल ने जेटली को एक  जुलाई से लागू होने जा रहे जीएसटी के लिए बधाई भी दी। जीएसटी की अवधारण का स्वागत करते हुए सौ प्रतिशत कर वापसी वाले नियम को बरकरार रखने का आग्रह किया गया। फिनर के प्रतिनिधिमंडल ने इस दौरान डोनर मंत्री जितेंद्र qसह, विभागीय सचिव नवीन वर्मा व  डीआईपीपी के संयुक्त सचिव रवनीत कौर, कस्टम के वंजना एन शर्मा से भी मुलाकात की। जेटली से मुलाकात के दौरान फिनर के प्रतिनिधिमंडल ने पूर्वोत्तर में बैंqकग पर ध्यान देने की अपली करते हुए इसे सतत विकास के लिए आवश्यक बताया। उल्लेखनीय है कि फनर नीति नियंताओं व अधिकारियों से मुलाकात कर निरंतर पूर्वोतर के आर्थिक विकास के प्रति सचेष्ट है। इसलिए नीति आयोग के मुख्य कार्यकारी अधिकारी अभिताभ कांत राजस्व सचिव हसमुख आद्या व दूसरे अधिकारियों से विचार-विमर्श की प्रक्रिया सतत जारी है।