Offcanvas Info

Assign modules on offcanvas module position to make them visible in the sidebar.

A A A

नई दिल्ली.(समा.एजें) ३१ मई : केंद्र सरकार ने एक आरटीआई का जवाब देते हुए कहा कि नेताजी सुभाष चंद्र बोस की मौत साल १९४५ में ताइवान में हुए एक प्लेन हादसे में हुई थी. सायक सेन नामक व्यक्ति ने यह आरटीआई मार्च में फाइल की थी. केंद्रीय गृहमंत्रालय द्वारा मंगलवार को दिए गए आरटीआई के जवाब पर नेताजी सुभाष चंद्र बोस के परिवार ने नाराजगी जताई है. सुभाष चंद्र बोस के परपोते और बंगाल बीजेपी के उपाध्यक्ष चंद्र बोस ने कहा है कि आखिर कैसे सरकार बिना किसी ठोस सबूतों के मौत का दावा कर सकती है. उन्होंने कहा, ङ्कमैं इस पूरे मामले को पीएम नरेंद्र मोदी के पास ले जाऊंगा. उन्होंने ही ७० साल बाद फाइल को सार्वजनिक किया था.ङ्क बोस का कहना है कि पीएम के साथ हुई बैठक में उन्होंने मौत के रहस्य का हल और इसके तार्किक निष्कर्ष तक पहुंचाने का वादा किया था. चंद्र बोस ने कहा कि सार्वजनिक की गईं फाइलों की छानबीन अभी चल रही है. मुखर्जी कमीशन ने साफ तौर पर बताया था कि नेताजी की मौत प्लेन क्रैश में नहीं हुई थी. कांग्रेस ने मुखर्जी कमीशन की रिपोर्ट को खारिज कर दिया था.