Offcanvas Info

Assign modules on offcanvas module position to make them visible in the sidebar.

A A A

 सेंट पीटर्सबर्ग (समा.एजें) ३ जून :. नरेंद्र मोदी ने यहां शुक्रवार को इंटरनेशनल इकोनॉमिक फोरम में स्पीच दी। इसके बाद मोदी और पुतिन इंटरेक्टिव सेशन में सवालों का जवाब दे रहे थे। अमेरिका की जर्नलिस्ट मेगिन कैली प्रोग्राम की एंकरिंग कर रही थीं।

कैली ने मोदी से णड प्रेसिडेंशियल इलेक्शन में रशिया के दखल पर सवाल किया, जिसके जवाब में मोदी ने कहा कि इतने बड़े-बड़े लोगों को मेरे जैसे वकील की जरूरत नहीं है। बता दें कि मोदी चार देशों की यात्रा पर हैं। जर्मनी और स्पेन के बाद मोदी रूस के दो दिवसीय दौरे पर थे। शनिवार को वे फ्रांस में रहेंगे।जर्नलिस्ट मेगिन कैली ने पूछा, ‘‘प्राइम मिनिस्टर मोदी! प्रेसिडेंट पुतिन ने हाल ही में कहा था कि रूस कभी भी दूसरे देशों में होने वाले चुनावी प्रक्रिया में दखल नहीं देता। क्या आप इस पर यकीन रखते हैं?ङ्कङ्क इस सवाल को सुनने के बाद पुतिन ने सिर हिलाया और मुस्कुरा दिए। वहां मौजूद लोग भी हंसने लगे। पुतिन ने मजाक में कहा- ‘मोल्डोवन प्रेसिडेंट से पूछिए। वे असलियत जानते हैं।ङ्क इतना कहते ही ठहाका लग गया।  पुतिन के इस कमेंट से मायने ईस्टर्न यूरोपीय देश मोल्डोवा में पिछले साल नवंबर में हुए चुनाव से थे। वहां सोशलिस्ट नेता इगोर डोडोन जीते हैं जो रूस के बेहद करीबी माने जाते हैं। इसके बाद मोदी ने कहा- आप अमेरिका की, जर्मनी की, रशिया की, (यूएस प्रेसिडेंट) श्रीमान टड्ढम्प की, हिलेरी क्लिंटन की, (जर्मनी की) चांसलर मर्केल की, प्रेसिडेंट पुतिन की... ऐसे-ऐसे बड़े-बड़े लोगों की चर्चा कर रही हैं। मुझे नहीं लगता कि मेरे जैसे वकील की इन लोगों को जरूरत है।  मोदी के इतना कहते ही ठहाका लगा। लोगों ने जमकर तालियां बजाईं।

मोदी के जवाब पर एंकर ने कहा- हां। हमें कभी बेबाक वकीलों की जरूरत ही नहीं पड़ती। आखिर में पुतिन ने भी मोदी को सपोर्ट करते हुए कहा- वे बहुत हाजिर जवाब हैं। हिंदी में वे कहते हैं तो आप अंदाज नहीं लगा सकते। लेकिन उनकी फिलॉसफी बहुत बड़ी है। ...हम तो सिम्पल लोग हैं। जो सोचते हैं, वो कह देते हैं। जनवरी २०१७ में णड इंटेलिजेंस एजेंसियों ने प्रेसिडेंशियल इलेक्शन पर एक रिपोर्ट जारी की थी। जिसमें कहा गया था कि प्रेसिडेंट इलेक्शन में रूस ने दखल दिया था। इलेक्शन कैंपेन को टड्ढंप के पक्ष में करने के लिए हैकिंग हुई थी।  पुतिन हमेशा इन आरोपों से इनकार करते रहे हैं। हालांकि, पिछले दिनों उन्होंने पहली बार कहा था कि कुछ रूसी देशभक्त ऐसा कर सकते हैं। पुतिन ने मोदी के सम्मान में सेंट पीटर्सबर्ग के कोंस्टैंटिन पैलेस में डिनर रखा था। इस दौरान पुतिन का इंटरव्यू लेने के लिए सिर्फ कैली को बुलाया गया था।  कैली से मुलाकात के दौरान मोदी ने उनसे कहा, ‘मैंने आपकी ट्वीट देखी थी, उसके साथ लगी तस्वीर में आप छाता लिए हुई थीं।‘  इस पर कैली ठहाका लगाकर हंस दीं और मोदी से पूछा, ‘आप ट्विटर पर हैं?‘ इस पर मोदी हंस दिए। इस दौरान पुतिन के एक टड्ढांसलेटर भी वहां मौजूद थे। बता दें कि मोदी के ट्विटर पर ३ करोड़ से ज्यादा फॉलोअर्स हैं।