Offcanvas Info

Assign modules on offcanvas module position to make them visible in the sidebar.

A A A

नई दिल्ली (समा.एजें) १२ सितंबर :. रोहिंग्या मुसलमानों को लेकर गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने बड़ा बयान दिया है

. राजनाथ सिंह ने कहा है कि रोहिंग्या मुसलमान शर्णार्थियों के गैरकानूनी तरीके से भारत में आने पर देश की सुरक्षा को खतरा होने से इनकार नहीं किया जा सकता. केंद्रीय गृह मंत्री ने कहा, मानवता के तहत अपने देश में हम शरणार्थियों को जगह देते हैं लेकिन गैरकानूनी अप्रवास के सख्त खिलाफ हैं और जो भी गैर कानूनी तरीके से भारत में घुसने  की कोशिश करेगा या शरण लेगा उसके खिलाफ सरकार कार्रवाई करेगी. रोहिंग्या मुसलमानों को अवैध रूप से भारत में शरण लेने से रोकने के लिए गृह मंत्रालय ने भारत-म्यांमार पर सीमा पर चौकसी बढ़ा दी है और वहां रेड अलर्ट घोषित कर दिया है. म्यांमार दौरे के दौरान राखाइन प्रांत में रोहिंग्या मुसलमानों के साथ हो रही ज्यादती और हिंसा पर पीएम मोदी ने चिंता भी जताई थी. प्रधानमत्री ने कहा था, म्यांमार की एकता और अखंडता को बनाए रखने के लिये सभी पक्षों को मिलकर काम करना चाहिए.ङ्क म्यांमार से पलायन कर रोहिंग्या मुस्लिम भारत आ रहे हैं. करीब ४० हजार रोहिंग्या शरणार्थी भारत में गैरकानूनी तौर पर रह रहे हैं. इधर भारत सरकार उन्हें वापस भेजने की तैयारी कर रही है. दूसरी तरफ जम्मू व्यापार संगठन ने जम्मू में रह रहे रोहिंग्या मुसलमानों को जान से मारने की धमकी दी है जिसके बाद से जम्मू में एक बार फिर हिंसा का ख़तरा मंडरा रहा है. बीते दिनों रोहिंग्या मुसलमानों को लेकर कश्मीर में हिंसा भी हुई थी. रोहिंग्या मुसलमानों को म्यांमार वापस भेजने के सरकार के फैसले को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती भी दी गई है. इस पर सुप्रीम कोर्ट ने १८ सितंबर तक के सुनवाई टाल दी है. सुप्रीम कोर्ट ने रोहिंग्या लोगों को भारत में रहने देने की मांग करने वाली याचिका पर केंद्र से जवाब भी मांगा है।