Offcanvas Info

Assign modules on offcanvas module position to make them visible in the sidebar.

A A A

नई दिल्ली (स‘ा.एजें) १ ङ्करवरी : वित्त मंत्री अरुण जेटली ने देश के किसानों के लिए बड़े तोहफे का ऐलान किया है.

उन्होंने कहा कि सरकार ने आगामी खरीद की फसलों को उत्पादन लागत से कम-से-कम डेढ़ गुना कीमत पर लेने का फैसला ले लिया है. देश के किसानों की आमदनी बढ़ाकर साल २०२२ तक दोगुना करने का लक्ष्य प्राप्त करने के लिए वित्त मंत्री अरुण जेटली ने मौजूदा सरकार के आखिरी पूर्ण बजट में सरकार का संकल्प दोहराया और कहा कि किसानों को लागत से डेढ़ गुना कीमत मिले, इसे सुनिश्चित करने के लिए बाजार मूल्य और एमएसपी में अंतर की रकम सरकार वहन करेगी. जेटली ने कहा, बाजार के दाम अगर न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) से कम हो तो सरकार यह सुनिश्चित करेगी कि किसानों को बाकी पैसे किसानों को दिए जाएं.ङ्क जेटली ने कहा कि इसके लिए नीति आयोग व्यवस्था का निर्माण करेगा. इसके साथ ही, मोदी सरकार ने किसानों के कल्याण के लिए ११ लाख करोड़ का फंड बनाने का भी ऐलान किया.  वित्तमंत्री जेटली ने किसानों को लागत मूल्?य से ५० फीसदी ज्?यादा देने की घोषणा की है. पीएम मोदी ने अपने भाषण में कहा था कि वर्ष २०२२ तक हम किसानों की आमदनी को दूना कर देंगे.

  वित्तमंत्री अरुण जेटली ने कहा कि वर्ष २०२२ तक देश के हरेक गरीब के पास अपना घर होगा. उन्?होंने गरीब और मध्?यम वर्ग के लोगों को होम लोन में भी राहत देने की घोषणा की है. वित्तमंत्री ने कहा कि खेती का बाजार मजबूत करने के लिए २००० करोड़ रुपये खर्च किए जाएंगे. वित्तमंत्री जेटली किसानों के लिए कर्ज की राशि ११ लाख करोड़ करने की घोषणा की है. कृषि सिंचाई योजना के लिए २६०० करोड़ रुपये देने की घोषणा की गई है. देश का हरेक गरीब ५ लाख तक का कैश मेडिकल सुविधा का लाभ उठा सकता है. वित्तमंत्री अरुण जेटली ने अपने बजट भाषण में इसकी घोषणा की है. इससे देश के ४० फीसदी लोगों को फायदा होगा. जेटली ने कहा कि १० करोड़ परिवार को इससे फायदा होगा.आयकर में कोई बदलाव नहीं- वित्त मंत्री ने आयकर में किसी तरह का बदलाव नहीं किया है लेकिन एक बार फिर से स्टैंडर्ड डिडक्शन पेश किया है. वित्त मंत्री ने ४० हजार के स्टैंडर्ड डिडक्शन की घोषणा की है जिसके बाद अब नौकरीपेशा लोगों को मेडिकल खर्चों के लिए ४० हजार का स्टैंडर्ड डिडक्शन मिलेगा. इसके साथ ही वित्त मंत्री लॉन्ग टर्म कैपिटल टैक्स भी प्रपोज किया. इसके तहत शेयर खरीदने और बेचने पर १० प्रतिशत लॉन्ग टर्म कैपिटल टैक्स लगेगा. वित्त मंत्री ने शिक्षा और स्वास्थ्य पर लगने वाला सेस ३ प्रतिशत से ४ प्रतिशत बढ़ा दिया है. वहीं वित्त मंत्री कस्टम ड्यूटी बढ़ा दी है. मोबाइल फोन पर वित्त मंत्री ने कस्टम ड्यूटी १५ प्रतिशत से बढ़ाकर २० प्रतिशत कर दिया है जिसके कारण मोबाइल और टीवी महंगे होंगे. वित्त मंत्री ने टैक्स में बड़ी राहत देते हुए कहा कि पिछले साल के मुकाबले इसे आगे बढ़ाते हुए जिन कंपनियों का टर्नओवर सालाना २५० करोड़ है उन्हें भी कॉर्पोरेट टैक्स में २५ प्रतिशत टैक्स देना होगा. इससे देश की ९९ प्रतिशत बहुत छोटे, छोटे व मछोले उद्योगों को फायदा होगा.

नोटबंदी से काले पैसे पर लगाम लगी- वित्तमंत्री जेटली ने कहा कि हमने पॉलिसी पैरालिसिस को बदल डाला है. नोटबंदी से काले पैसे पर लगाम लगी है. अरुण जेटली ने कहा कि देश में ७.५ फीसदी विकास दर रहने की उम्?मीद है. वित्तमंत्री ने कहा कि हम जल्द ही दुनिया की पांचवीं बड़ी अर्थव्यवस्?था होंगे. अभी हमारी अर्थव्ङ्मवस्था दुनिया की सातवीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था है.

सरकारी कंपनियों के शेयर बेजकर ८०००० करोड़ जुटाएगी सरकार

पीएम मोदी के सपनों को पंख देने के लिए वित्तमंत्री अरुण जेटली ने ग्रामीण अर्थव्ङ्मवस्था को मजबूत करने की घोषणा की है. उन्होंने कहा कि हम इस साल खेती को मजबूत करने पर ध्यान देंगे. साथ ही उन्?होंने कहा कि हमारी सरकार के आने के बाद देश की अर्थव्ङ्मवस्था मजबूत हुई है. उन्होंने कहा कि हमारी सरकार रोजमर्रा की जिंदगी में सरकारी दखल को कम-से-कम करने की कोशिश करेगी. वित्तमंत्री अरुण जेटली ने अपने बजट भाषण में एक और बड़ी घोषणा की. उन्होंने कहा कि सरकार सार्वजनिक क्षेत्रों की कंपनियों के ८० हजार करोड़ के शेयर बेच देगी. वित्तमंत्री जेटली ने सांसदों के वेतन को भी बढ़ाए जाने की बात कही है.

२ करोड़ शौचालय बनाने का लक्ष्य - वित्तमंत्री अरुण जेटली ने अपने बजट भाषण में उज्ज्वला और सौभाग्य योजना के तहत गैस और बिजली पर ध्यान देने की बात की है. गरीब व मध्यम वर्ग के जीवन को सुगम बनाने पर जोर देते हुए उन्?होंने कहा कि तीन हजार से अधिक जन औषधि केंद्रों में ८०० से ज्यादा दवाइयां मुफ्त मिल रही है. उन्होंने कहा कि किसान क्रेडिट कार्ड का फायदा पशुपालकों और मत्स्य पालकों को भी दी जाएगी. वित्तमंत्री ने कहा कि पशुपालन एवं मत्स्यपालन क्षेत्र में बुनियादी ढांचे के विकास के लिए १०,००० करोड़ रुपये के दो नए कोष बनाई जाएगी. जेटली ने अपने भाषण में अगले वित्त वर्ष में दो करोड़ शौचालय बनाने के लक्ष्य का भी जिक्र किया.

२४ नए सरकारी मेडिकल कॉलेज-अस्पताल खोले जाएंगे - वित्तमंत्री जेटली ने अपने बजट भाषण में कहा कि नवोदय विद्यालय की तर्ज पर अनुसूचित जाति के छात्रों के लिए एकलव्य विद्यालय खोले जाएंगे. उन्?होंने बीटेक विद्यार्थियों के लिए प्रधानमंत्री रिसर्च फेलो योजना की भी घोषणा की. वित्तमंत्री ने २४ नए सरकारी मेडिकल कॉलेज-अस्पताल खोलने की भी घोषणा की. वित्तमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री जन-धन योजना का भी विस्तार किया जाएगा. उन्?होंने कहा कि प्रधानमंत्री दुर्घटना बीमा योजना के तहत १२ रुपये सालाना प्रीमियम पर दो लाख रुपये के बीमा को १३.२५ करोड़ लोगों ने अपनाया. उन्?होंने कहा कि प्रधानमंत्री जीवन सुरक्षा बीमा योजना के तहत ३३० रुपये सालाना प्रीमियम पर दो लाख रुपये बीमा योजना को ५.२२ करोड़ लोगों ने अपनाया.

रेलवे के लिए १.४८ लाख करोड़ रुपये का आवंटन - रेल बजट को लेकर वित्तमंत्री अरुण जेटली ने महत्?वपूर्ण घोषणा की. उन्होंने कहा कि रेलवे के लिए इस बजट में १.४८ लाख करोड़ रुपये का आवंटन किया गया है. इस वर्ष ४ हजार किलोमीटर रेल लाइनों का विद्युतिकरण किए जाने की योजना है. उन्?होंने कहा कि ४ हजार मानव रहित वाले रेलवे क्रॉसिंग २ साल में खत्म कर दिए जाएंगे.