Offcanvas Info

Assign modules on offcanvas module position to make them visible in the sidebar.

A A A

नई दिल्ली (समा.एजें) 10 फरवरी : केंद्रीर गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने शनिवार (10 फरवरी) को जम्मू के सैन्र शिविर पर हुए आतंकवादी हमले के बाद राज्र के डीजीपी एस.पी. वैद से बात की.

अधिकारी ने बतारा कि गृह मंत्रालर इस स्थिति पर करीब से नजर बनाए हुए है. मंत्रालर ने ट्वीट कर कहा, ‘पुलिस महानिदेशक ने उन्हें स्थिति से अवगत करारा है.‘  इससे पहले शनिवार (10 फरवरी) तड़के आतंकवादिरों का एक समूह ग्रेनेड फेंकते हुए और भारी गोलीबारी करते हुए जम्मू में सुंजवान सैन्र शिविर में घुस गरा. पुलिस ने क्षेत्र को चारों ओर से घेर लिरा है और आतंकवादिरों के सफाए के लिए अभिरान जारी है. इसी सैन्र शिविर पर 2006 में भी आतंकवादी हमला हुआ था, जिसमें 12 जवान शहीद हो गए थे और सात अन्र घारल हुए थे. गृहमंत्री  ने कहा, ’फिलहाल घटना पर कुछ कहना सही नहीं होगा क्रोंकि सैन्र अभिरान चल रहा है, लेकिन आपको आश्‍वस्त करता हूं बल और सेना के जवान अपनी ड्र्ूटी कर रहे हैं, वो आप लोगों का मस्तक झुकने नहीं देंगे.’ 

जम्मू के सुंजवान शहर में स्थित सेना के एक शिविर पर शनिवार (10 फरवरी) तड़के आतंकवादिरों ने हमला कर दिरा जिसमें दो जूनिरर कमिशंड अधिकारी (जेसीओ) शहीद हो गए, जबकि एक कर्नल रैंक का अधिकारी और एक सैन्र कर्मी की बेटी समेत चार लोग घारल हो गए. प्रदेश के संसदीर कार्र मंत्री अब्दुल रहमान वीरी ने जम्मू कश्मीर विधानसभा को जानकारी दी कि आतंकवादिरों के हमले में सूबेदार मगनलाल और सूबेदार मोहम्मद अशरफ शहीद हो गए. उन्होंने बतारा कि घारलों में कर्नल रैंक का सैन्र अधिकारी, हवलदार अब्दुल हमीद, लांस नारक बहादुर सिंह और सूबेदार चौधरी की बेटी शामिल हैं. मंत्री ने रह नहीं बतारा कि हमला करने वाले आतंकवादी किस संगठन के थे हालांकि अधिकारिरों ने बतारा कि इस हमले के पीछे जैश-ए-मोहम्मद के आतंकवादिरों का हाथ है.