Offcanvas Info

Assign modules on offcanvas module position to make them visible in the sidebar.

A A A

जयपुर,(समा.एजें) १३ मई :: कोटा में छात्रों के बीच हिंसक भिड़ंत में एक कोचिंग छात्र की मौत हो गई। उस पर बड़ी संख्या में आए अन्य छात्रों ने हथियारों से हमला किया।

पुलिस इसे छात्रों के समूहों के बीच वर्चस्व की लड़ाई बता रही है। छात्र सत्यप्रकाश गुरुवार को रात में कोटा के महावीर नगर इलाके में मेस में खाना खाकर हॉस्टल लौट रहा था। इस दौरान कुछ लोगों ने उस पर हमला कर दिया। चश्मदीद गवाह भुवेश गुप्ता ने बताया कि उन्हें रात में घर के बाहर बहुत शोर सुनाई दिया। उन्होंने बतया कि ‘ मैं जब बाहर आया तो मैंने देखा कम से कम सौ-डेढ़ सौ लड़के चाकू, सरिया, लाठी और सब्बल लेकर एक लड़के को बहुत बुरी तरह से मार रहे थे।‘

१८ साल का सत्य प्रकाश तीन साल से कोटा में रहकर कोचिंग ले रहा था। इस हमले में उसकी मौके पर ही मौत हो गई, जबकि उसका साथी संदीप बुरी तरह घायल है। सत्यप्रकाश बिहार के नवादा का रहने वाला था। उसके पिता पोस्ट मास्टर हैं। संदीप ने चार दिन पहले ही कोटा आकर कोचिंग में दाखिला लिया था।

पुलिस ने कहा है कि यह हमला करने वाले भी कोचिंग के ही छात्र हैं और यह उनके वर्चस्व की लड़ाई थी। कोटा के एसपी सवाई सिंह गोदारा ने कहा कि ‘ तीन-चार मोटरसाइकिलों पर लोग आए थे और उन्होंने ही मारपीट की है। बाकी वहां हॉस्टल और मेस के लोग भीड़ में शरीक हो गए और साथ हो गए।‘ लेकिन यहां कोचिंग लेने आए छात्रों का इस तरह से गैंग बनाकर ऐसी वारदात करना कोटा के कोचिंग महल को लेकर सवाल खड़ा करता है।